ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
&TV हिंदी मनोरंजन चैनल पर पहली बार पेश करते हैं बाबासाहेब की जीवनगाथा – “एक महानायक – डॉ. बी. आर. आम्बेडकर'
December 11, 2019 • SRISHTI SHARMA • मनोरंजन

&TV हिंदी मनोरंजन चैनल पर पहली बार पेश करते हैं बाबासाहेब की जीवनगाथा – “एक महानायक – डॉ. बी. आर. आम्बेडकर'

“संविधान कितना भी अच्छा हो, यदि उसे लागू करने वाले अच्छे नहीं होंगे, तो वह बुरा साबित होगा। वैसेही संविधान कितना भी बुरा हो, यदि उसे लागू करने वाले अच्छे होंगे, तो वह अच्छा साबित होगा” – डॉ. बी. आर. आम्बेडकर।

अपने गौरवशाली इतिहास में भारत कुछ ऐसे महान नेतृत्वकर्ताओं के नेतृत्व में रहा है, जिन्होंने भविष्य के लिये मिसाल तय की और सभी के लिये प्रेरणा बने। भारत के इतिहास में ऐसे ही एक नेतृत्वकर्ता हैं, जिन्होंने एक क्रांति को जन्म दिया और भरोसेमंद आवाज बने, वह थे एक महानायक - डॉ. बी. आर. आम्बेडकरभारतीय संविधान के रचियता। ऐसे व्यक्ति, जिन्होंने करोड़ों भारतीयों के दिलों में स्थायी रूप से अपनी जगह बनाई। वे उत्कृष्टता से भी बड़े थे, उनकी विरासत बेमिसाल है।

&TV इस असाधारण व्यक्तित्व, उनकी संघर्षशीलता और वह कैसे संयुक्त भारत के प्रणेता बने, इसकी हिन्दी के सामान्य मनोरंजन चैनल के क्षेत्र में पहले कभी न कही गई कथा को प्रस्तुत करते हुए गर्वान्वित है, जो एक महानायक- डॉ. बी. आर. आम्बेडकर नामक दमदार सामाजिक नाटक में दिखेगी। स्मृति शिंदे के सोबो फिल्म्स द्वारा निर्मित यह शो बाबासाहेब और पाँच वर्ष की छोटी आयु से आरंभ और भारतीय संविधान का प्रधान शिल्पकार बनने तक की उनकी यात्रा की प्रेरक कथा हैएक महानायक - डॉ. बी. आर. आम्बेडकर में प्रसाद जवादे मुख्य भूमिका में होंगे, आयुध भानुशाली उनके बचपन की भूमिका निभायेंगे, जग्गू निवंगुणे उनके पिता की भूमिका में होंगे, नेहा जोशी उनकी माँ, साउद मंसूरी उनके बड़े भाई, अथर खान उनके छोटे भाई, तुलसा और वंशिका यादव उनकी बहनों की भूमिका में नजर आयेंगे। यह शो 17 दिसंबर, 2019 से प्रत्येक सोमवार से शुक्रवार रात 8:30 बजे &TV पर प्रसारित होगा।

इस नयी पेशकश के बारे में के &TV के बिजनेस हेड, विष्णु शंकर ने कहा कि, “डॉ. बी. आर. आम्बेडकर ने करोड़ों भारतीयों को एक राष्ट्र और एक संविधान की छतरी की परिधि में लाकर एकीकृत भारत की बुनियाद रखी थी। उनकी शिक्षा और सिद्धान्त आज भी पूरे देश के भारतीयों के हृदय में झंकृत होते हैंभारत भूमि के लिए लोकतंत्र को पुनर्परिभाषित करने वाली और क्रांति की चुनौती स्वीकार करने की उनकी क्षमता ने उन्हें हमारे दौर का सबसे महान नायक बना दिया। हमें डॉ. बी. आर. आम्बेडकर पर एक शो प्रस्तुत करते हुए गर्व का अनुभव कर रहे हैं। यह शो असल में हिन्दी सामान्य मनोरंजन चैनल श्रेणी का पहला शो है। मुझे पक्का भरोसा है कि उनकी कहानी व्यापक रूप से भारतीय जनमानस को प्रेरणा प्रदान करेगी।

इस शो के बारे में सोबो फिल्म्स की निदेशक स्मृति सुशीलकुमार शिंदे ने कहा, "भारतीय संविधान के शिल्पकार डॉ. बी. आर. आम्बेडकर को 'बाबासाहेब' के नाम से जाना जाता है, वे एक महान समाज सुधारक, शिक्षाविद और नेता थेजन्म से लेकर अंतिम सांस तक डॉ. बी. आर. आम्बेडकर का जीवन एक प्रेरक कथा है। हमें विश्वास है कि हमारा शो "एक महानायक- डॉ. बी. आर. आम्बेडकर' उनकी जीवनगाथा से यह बताने में सफल होगा कि एक व्यक्ति अपने स्पष्ट और विकसित दृष्टिकोण, अदम्य दृढ़ता और लगन से क्या अर्जित कर सकता है। मुझे विश्वास है कि इस टेलीविजन शो का दर्शकों से अतुलनीय जुड़ाव होगा। भारतीय टेलीविजन पर ऐसे महान और असली संघर्ष की कहानी पहले कभी नहीं देखी गई है और मेरे प्रोडक्शन हाउस सोबो फिल्म्स के लिये यह बड़े सम्मान और जिम्मेदारी की बात है कि इसे &TV के साथ मिलकर अत्यंत उत्सुक दर्शकों के लिये प्रस्तुत किया जा रहा है।"

शो में युवा आम्बेडकर की भूमिका निभाने वाले आयुध भानुशाली ने कहा कि, “हम स्कूल में डॉ. बी. आर. आम्बेडकर की कृतियों और उपलब्धियों के बारे में पढ़ते रहे हैं। लेकिन मुझे इसका अंदाजा भी नहीं था कि एक दिन मुझे पर्दे पर युवा आम्बेडकर की भूमिका निभाने का सौभाग्य मिलेगा। इस शो के माध्यम से मुझे उनके बारे में काफी कुछ जानने और सीखने का अवसर मिल रहा है जो मैं किताबों से नहीं जान सकता था। व्यक्तिगत रूप से यह एक शानदार अनुभव है और मैं बड़े उत्साह के साथ इसकी सफलता के लिए आशान्वित हूँ।"

अभिनेत्री नेहा जोशी, जो इस शो से अपने कॅरियर की शुरुआत कर रहीं हैं, ने कहा कि, "यह न केवल हिन्दी टेलीविजन पर बल्कि एक माँ की भूमिका में भी पहला कदम है। मेरे लिए इससे बड़े गौरव की और कोई बात नहीं हो सकती थी कि मुझे एक ऐसे महान व्यक्ति की माँ का किरदार निभाने का मौका मिला है जो अपने पूरे जीवन काल में समाज से भेदभाव, अपमान और अभाव के उन्मूलन के लिए लड़ते रहे और भारतीय संविधान के जनक बनेभीमा बाई (आम्बेडकर की माँ) सीधी-सादी महिला थीं, जो गंभीरता के साथ अपने पति के काम में मदद करती थीं और अपने नेहा जोशी ने आगे यह भी कहा कि, 'मैं अपने प्रशंसकों और दर्शकों से अपील करती हूँ कि एक महानायक - डॉ. बी. आर. आम्बेडकर जरूर देखें और भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकार के नये नियमों के अनुसार जी समूह के चैनलों को सब्सक्राइब करें। आखिरकार, जी पारिवारिक मनोरंजन के लिए घर के हर सदस्य के मनपसंद प्रोग्राम्स को एक ही जगह पेश करने वाला नम्बर-1 नेटवर्क है। इसलिए &TV पर हमारा शो लगातार देखने के लिए आज ही जी एचएसएम बुके का चुनाव करके कृपया जी फैमिली पैक – हिन्दी एसडी/एचडी खरीदें।"

अपने किरदार और हिन्दी टेलीविजन पर पहली बार आने वाले अभिनेता जगन्नाथ निवंगुणे ने कहा कि, “मेरे लिए आम्बेडकर के पिता, रामजी की भूमिका के लिए चुना जाना सचमुच बेहद गौरवपूर्ण क्षण है। भीमराव के मन में सीखने की उत्कंठा और अपने आदर्श उनके पिता ने ही भरे थेअनुशासन के मामले में सख्त रामजी ने हमेशा अपने बच्चों और पत्नी के कल्याण की दिशा में काम कियाइस शो की शूटिंग पूरे जोर-शोर से चल रही है और मैं इसके प्रसारण की बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहा हूँ।"

'एक महानायक- डॉ. बी. आर. आम्बेडकर का प्रीमियर 17 दिसंबर, 2019 (मंगलवार) को रात 8:30 बजे, केवल &TV पर होगा