ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
भारत का पहला बिज़नेस-टू-बिज़नेस (बी2बी) क्रिप्टो एक्सचेंज ‘डिजिटएक्स' लांच
October 6, 2020 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

 उद्योग में अपनी तरह की अनूठी पहल में विश्वसनीय संपर्कों के नेटवर्क के साथ एक पारदर्शी और सुरक्षित मॉडल के जरिये क्रिप्टो ट्रेडिंग की पेशकश करेगा यह एक्सचेंज

दिल्ली: क्रिप्टो ट्रेडिंग में विश्वास, पारदर्शिता और सुरक्षा की नीव पर निर्मित भारत के पहले बिज़नेस टु बिज़नेस (बीटुबी) क्रिप्टो ट्रेडिंग एक्सचेंज डिजिटएक्स ने अपना ट्रेडिंग परिचालन शुरू करने की आज घोषणा की। अत्यधिक संभावनाओं के बावजूद इस चुनौतीपूर्ण बाजार में डिजिटएक्स ने क्रिप्टो के निवेशकों व ट्रेडर्स में जरूरी विश्वास लाने के लिए अनूठे फीचर्स के साथ पारदर्शिता एवं सुरक्षा उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है।

भारत में पहली बार डिजिटएक्स पूर्व सत्यापित, प्रशिक्षित और परखे हुए विश्वसनीय लिंक्स (सदस्यों) का नेटवर्क लेकर आया है जो एक सुरक्षित क्रिप्टो ट्रेडिंग पारितंत्र सुनिश्चित करेंगे। निवेशक अपने समीप के विश्वसनीय लिंक्स चुन सकते हैं जिन्हें गहनता से छांटा गया है और ये लगभग ना के बराबर त्रुटि के साथ प्रक्रिया पूरी करने के लिए पूरी तरह से प्रशिक्षित हैं और निवेशकों को पूर्ण संतष्टि प्रदान करते हैं। डिजिटएक्स में टेक्नोलॉजी की ताकत है और यह सिद्ध ट्रेड मॉडल होने के साथ ही सर्वोत्तम नियामकीय व्यवस्थाओं के अनुरूप है जिससे भविष्य की डिजिटल अर्थव्यवस्था में लोगों को शामिल करने के मामले में यह अग्रणी में होगा।

इस अवसर पर डिजिटएक्स के सह-संस्थापक आशीष मेहता ने कहा, “डिजिटएक्स में विश्वसनीय लिंक्स के हमारे अनूठे मॉडल के साथ हम पारंपरिक इक्विटी और कमोडिटी बाजार का लाभ पहली बार क्रिप्टो ट्रेडिंग में ला रहे हैं। आज क्रिप्टो निवेश समुदाय के एक खास वर्ग में अत्यधिक लोकप्रिय है, भले ही शुरूआती दिनों में इसे भारी उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ा क्योंकि इसके समक्ष सुरक्षा और पारदर्शिता का सवाल खड़ा किया गया। यह हमारी ईमानदारी भरी पहल है कि हम निवेशकों के समुदाय और लोगों को इस वैकल्पिक परिसंपत्ति वर्ग की संभावना को लेकर शिक्षित करें जोकि ब्लॉकचेन की अत्यधिक कार्य कुशलता के सिद्धांतों पर कार्य करता हैहम चुनिंदा विश्वसनीय सदस्यों के साथ परिचालन शुरू कर रहे हैं और वर्ष 2021 तक हमने 100 विश्वसनीय सदस्यों को अपने साथ जोड़ने का लक्ष्य रखा है।”

क्रिप्टो ट्रेडिंग के नियमन के महत्व पर श्री आशीष मेहता ने कहा, “क्रिप्टो एक वैकल्पिक परिसंपत्ति वर्ग है जो जबरदस्त दक्षता, आगे बढ़ने की क्षमता और बहुत कुशल टेक्नोलॉजी के बल पर अपनाने में आसान है। ब्लॉकचेन और डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर टेक्नोलॉजी के बल पर यह हमारी अर्थव्यवस्था में सकारात्मक भूमिका निभा सकता है, ऐसा हमारा दृढ़ विश्वास है। हमारी सोच है कि इस अवसर का और विस्तार करने के लिए क्रिप्टो का इस देश के वैध वित्तीय संस्थानों द्वारा नियमन किया जाना चाहिए। हमें उम्मीद है कि उद्योग और भागीदार इस दिशा में काम कर सकते हैं।"

ईमानदार निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए क्रिप्टो करेंसी के साथ साथ भारतीय शेयर बाजार और कमोडिटी एक्सचेंज की सर्वोत्तम व्यवस्थाओं और नियमों का डिजिटएक्स द्वारा पालन किया जाता है। यह विश्वस्तरीय टेक्नोलॉजी से लैस है जिससे यह सुरक्षित सौदों के साथ लाभ की स्थिति में है क्योंकि यह मौलिक रूप से महत्वपूर्ण है।