ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
एचपी ने भारत में पेश किया शक्तिशाली नया ग्‍लोबल पार्टनर प्रोग्राम
July 16, 2020 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

                                                         

एचपी एम्‍क्‍लीफाईसे पार्टनर्स को मिलेगी ग्राहकोन्‍मुख डिजिटल दौर में आगे बढ़ने के लिए जरूरी क्षमताएं और समझ 

 नई दिल्‍ली / एचपी इंक. ने आज अपनी तरह का पहला ग्‍लोबल1 चैनल पार्टनर प्रोग्राम – एचपी एम्‍प्‍लीफाई पेश किया है जो पार्टनर ग्रोथ को बढ़ावा देने के साथ-साथ ग्राहकों के अनुभवों में भी एकरूपता सुनिश्चित करेगा। एकल, एकीकृत संरचना पर आधारित एचपी एम्‍प्‍लीफाई लगातार बदल रहे डिजिटल परिदृश्‍य और ग्राहकों की खरीदारी के व्‍यवहारों में आने वाले बदलावों के मद्देनज़र समझ, क्षमताओं तथा गठबंधन में सहायक टूल्‍स की पेशकश करता है। यह नया प्रोग्राम कमर्शियल पार्टनर्स के लिए आगामी 1 नवंबर, 2020से और रिटेल पार्टनर्स के लिए 2021 की दूसरी छमाही से लागू हो जाएगा।

 एचपी के श्रेष्‍ठ पार्टनर प्रोडक्‍ट्स, टूल्‍स तथा ट्रेनिंग्‍स को एक इन्‍ट्यूटिव प्रोग्राम में जोड़कर एचपी एम्‍प्‍लीफाई ने जटिलताओं को दूर कर पार्टनर्स के लिए इसे आसान बनाया है ताकि वे इसका लाभ उठाते हुए ग्राहकों के साथ बेहतर तालमेल बना सकें। एचपी एम्‍प्‍लीफाई में दो अलग-अलग ट्रैक्‍स हैं – सिनर्जी तथा पावर और यह ग्राहकों को मूल्‍य वर्धित सेवाओं तथा क्षमताओं पर निवेश करने के लिहाज से विकल्‍पों की सुविधा प्रदान करता है। पार्टनर जितना अधिक इन क्षमताओं पर निवेश करेगा, उतना अधिक लाभ कमाएगा।

गुरप्रीत बरार, हैड, चैनल सेल्‍स&डिस्ट्रीब्यूशन, एचपी इंडिया मार्केट ने कहा, ''एचपी और उसके पार्टनर्स के पास बाज़ार संबंधी नज़रिए और अपने ग्राहकों के साथ क्रिया-कलापों को बदलने का जबर्दस्‍त अवसर है। इन अवसरों का लाभ उठाने के लिए, नए डिजिटल-फर्स्‍ट बिज़नेस मॉडल को अपनाने की जरूरत है। हम अपने इकोसिस्‍टम पर निवेश करने और अपनी साझा क्षमताओं को मजबूत बनाते हुए मिलकर इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।''

क्रिस्‍टॉफ शैल, एचपी चीफ कमर्शियल ऑफिसर ने कहा, ‘'आज के खरीदार को अधिक सुगम, ऑटोमेटेड और पर्सनलाइज्‍़ड अनुभवों की अपेक्षा होती है। इस बदलते माहौल में आगे बढ़ने के लिए, जबकि डेटा एक नई मुद्रा बन चुका है, हमें अपने ग्राहकों को बाज़ार के तौर पर नहीं बल्कि व्‍यक्तिगत स्‍तर पर देखने की आदत बनाने की जरूरत है। एचपी एम्‍प्‍लीफाई न सिर्फ पार्टनर्स को एचपी के साथ काम की अधिक सहूलियत देगा बल्कि यह पार्टनर्स को अपने कारोबार को तैयार करने का मार्ग सुगम बनाने और आज के माहौल में तथा इससे भी आगे निकलनकर कामयाब होने में मददगार साबित होगा – ताकि वे उभरते हुए रुझानों का लाभ उठाकर ग्राहकों के खरीदारी के बदलते सफर में प्रमुख भूमिका निभा सकें।''

 फिलहाल एचपी के पास भारतीय बाज़ार में, जिसमें श्रीलंका और बांग्‍लादेश स्थित कारोबार भी शामिल है, 1400 से अधिक कमर्शियल पार्टनर हैं। इन पार्टनर्स के जरिए, एचपी सरकारी और उद्यमी क्षेत्रों के ग्राहकों के साथ मिलकर, और कुछ मामलों में, एसएमबी और सोहो श्रेणियों के उपभोक्‍ताओं के साथ, मिलकर काम करता है।

 डिजिटल की रफ्तार से अनुभव : ग्राहकों ने टैक्‍नोलॉजी को लेकर शोध और इसकी खरीदारी तथा ब्रैंड्स के साथ अपने जुड़ावों के तौर-तरीकों में जबर्दस्‍त बदलाव किए हैं, अब वे डिजिटल चैनलों के जरिए अधिक उत्‍पादों और सेवाओं की खरीद करते हैं, जैसे कि ई-कॉमर्स, पार्टनर पोर्टल्‍स तथा मार्केटप्‍लेस से। साथ ही, टैक्‍नोलॉजी और डिजिटल स्‍तर पर होने वाले बदलावों की रफ्तार बहुत ज्‍यादा है और बिज़नेस मॉडल सिर्फ उत्‍पादों की बिक्री से कहीं आगे निकलकर लंबे संबंधों पर ज़ोर देने लगे हैं।

 कुल मिलाकर, आईटी इंडस्‍ट्री और खासतौर से चैनल के लिए, इसका अर्थ यह है कि पहले की तरह चला आ रहा व्‍यवसाय अब कोई विकल्‍प नहीं रह गया है। एचपी एम्‍प्‍लीफाई की पेशकश के साथ ही, एचपी ने इन बदलावों के मद्देनज़र, पार्टनर्स को भविष्‍य के लिहाज़ से तैयार करने के साथ-साथ ग्राहकों के लिए अधिक संतोषजनक अनुभव बनाने पर ज़ोर दे रहा है।