ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
एमपीपीएससी के उम्मीदवार की राइटिंग स्किल को बेहतर करने के लिए खास पहल
February 5, 2020 • SRISHTI SHARMA • शिक्षा

एमपीपीएससी के उम्मीदवार के लिए अपनी राइटिंग स्किल को बेहतर करने का खास अवसर

मध्य प्रदेश पब्लिक सर्विसेस कमीशन (एमपीपीएससी) की परीक्षा की घोषणा के साथ सभी उम्मीदवार अपनी-अपनी तैयारी में जुट गए हैं। चूंकि, बहुत से उम्मीदवार अपनी तैयारी के दौरान जवाब लिखने का अभ्यास नहीं करते हैं, इसलिए परीक्षा के दौरान उन्हें परेशान होना पड़ता है। 
जीएस स्कोर इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर  मनोज के झा ने बताया कि, “अधिकतर उम्मीदवार कमजोर प्लानिंग और रणनीति के कारण आन्सर राइटिंग सेक्शन को ठीक से पूरा नहीं कर पाते हैं। उन्हें कंटेंट की क्वालिटी और लिखने के तरीके के बारे में कुछ खास ज्ञान नहीं होता है, जिसके कारण उन्हें परीक्षा के दौरान परेशान होना पड़ता है। इस सेक्शन को समझदारी से पूरा करने से उम्मीदवार अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। उम्मीदवारों की राइटिंग स्किल्स को बेहतर करने के उद्देश्य के साथ, 10 पॉइंटर्स की पहल यानी कि लैप पूरे सिलेबस को विस्तार से कवर करता है। लैप को इस उद्देश्य के साथ डिजाइन किया गया है, जिसकी मदद से उम्मीदवार सभी विषयों के अनुसार जवाब लिखने का अभ्यास कर सकते हैं। उम्मीदवारों को अभ्यास के लिए प्रतिदिन उपयुक्त समय दिया जाएगा, जिससे उन्हें सुधार के लिए उचित समय मिल सके।”
एमपीपीएससी के उम्मीदवारों को जवाब लिखने का तरीका सिखाने के लिए 10 पॉइंटर्स ने एक खास पहल कि शुरुआत की है। 10 पॉइंटर्स की इस पहल का नाम लैप (सीखो और अभ्यास करो) है, जहां सब्जेक्ट एक्सपर्ट्स कुछ सवाल तैयार करेंगे, जिनका उम्मीदवारों को जवाब लिखना होगा। भारत में, यह अपने प्रकार की पहली पहल है, जो उम्मीदवारों को समय का सही उपयोग करना सिखाएगी और उनका सही मार्गदर्शन करेगी। चूंकि, यह सुविधा बिल्कुल मुफ्त है, इसलिए सभी छात्र समानरूप से इसका लाभ उठा सकते हैं।
इस प्रोग्राम को इस प्रकार से तैयार किया गया है, जिसकी मदद से उम्मीदवार रिवीजन के साथ-साथ लिखने का अभ्यास भी कर सकेंगे। इच्छुक उम्मीदवार  https://www.10pointer.com/articles/answer-writing.पर लॉगऑन कर सकते हैं। सामान्य ज्ञान (जीएस) से संबंधित सवाल ऑल्टरनेट दिनों में पोस्ट किए जाएंगे। जीएस 1 संबंधी सवाल सोमवार को, जीएस 2 के सवाल बुद्धवार को, जीएस 3 के शुक्रवार और स्टेट-स्पेसिफिक सवाल शनिवार को पोस्ट किए जाएंगे। इस पहल में फीडबैक सिस्टम भी शामिल किया गया है, जिससे छात्रों की हर संभव तरीके से मदद की जा सके।
श्री मनोज के झा ने आगे बताया कि, “उम्मीदवार वेबसाइट के कमेंट सेक्शन में जवाब पोस्ट कर सकते हैं। एक्सपर्ट्स इन जवाबों का मूल्यांकन कर छात्रों को उपयुक्त फीडबैक देंगे, ताकि वे अपने लेखन में जरूरी सुधार ला सकें। इसके अलावा छात्रों को हर सवाल का मॉडल जवाब भेजा जाएगा, जिससे छात्र अपने और मॉडल जवाब के बीच का फर्क समझकर अपनी कमियों में सुधार सक सकें।”
लैप न सिर्फ छात्रों की तैयारी, टाइम मैनेजमेंट, प्रेजेन्टेशन में मदद करेगा, बल्कि उन्हें जवाब लिखने का सही तरीका भी सिखाएगा। नियमित रूप से लिखने का अभ्यास करने से, छात्रों को समझ आ जाएगा कि जवाब को किस प्रकार से लिखना है। इसलिए परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए इस पहल का नियमित रूप से पालन करना और एक्सपर्ट्स से अपने जवाबों का मूल्यांकन कराना जरूरी है।