ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
मणिपाल हॉस्पिटल्स, नई दिल्ली भोपाल में अपनी तरह की पहली ऑन्कोलॉजी ई-ओपीडी 17 अगस्त को
August 14, 2020 • SRISHTI SHARMA • स्वास्थ्य

                           

 मणिपाल हॉस्पिटल्स, नई दिल्ली भोपाल में अपनी तरह की पहली ऑन्कोलॉजी ई-ओपीडी आयोजित करेगा,यह ई-ओपीडी / टेली-परामर्श अक्षय हॉस्पिटल, भोपाल के सहयोग से आयोजित किया जाएगा

भोपाल : भोपाल क्षेत्र में कैंसर जैसे गैर-संचारी रोगों (एनसीडी) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, नई दिल्ली स्थित HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स ने भोपाल के लोगों को रोकथाम, निदान और अब उपलब्ध विश्व स्तरीय सुविधाओं के बारे में जागरूक करने के लिए कमर कस ली है। HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स सोमवार (17 अगस्त, सुबह 11 बजे से 3 बजे तक) एक ऑन्कोलॉजी ई ओपीडी/टेली-परामर्श का आयोजन करेगा। यह सेवा अक्षय हॉस्पिटल, ऋषि नगर, भोपाल के सहयोग से आयोजित की जाएगी।

टेली-परामर्श के दौरान, डॉ. पुष्पिंदर गुलिया, सलाहकार, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स, नई दिल्ली अक्षय हॉस्पिटल में रखे गए एक वाइडस्क्रीन (वीडियो) के माध्यम से रोगियों को परामर्श और स्थानीय डॉक्टरों को उन रोगियों की देखभाल करने पर सलाह देंगे, जिन्हें विशेष ऑन्कोलॉजी उपचार और देखभाल की ज़रूरत है।

डॉ. गुलिया, एक बहुत ही अनुभवी सर्जिकल ऑन्कोलॉजिस्ट हैं और सिर और गर्दन के कैंसर, स्तन कैंसर, गायनेकोलॉजिकल, बोन ट्यूमर थोरैसिक और यूरो-गायनेकोलॉजी ऑन्कोलॉजी से पीड़ित रोगियों को संभालने और रिहैबिलेशन में माहिर हैं। ऑन्कोलॉजी के इन क्षेत्रों में उनकी विशेषज्ञता से उन सभी लोगों को लाभ होने की उम्मीद है जो इन गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं।

डॉ. गुलिया ने इस क्षेत्र के लिए ई ओपीडी / टेली-परामर्श के शुभारंभ की घोषणा करते हुए कहा, “सिर और गले का कैंसर हमारे देश में पुरुषों में और स्तन कैंसर भारतीय महिलाओं में होने वाला सबसे आम कैंसर है। गायनेकोलॉजिकल कैंसर, खास तौर पर सर्विक्स का कैंसर भारतीय ग्रामीण महिलाओं में सबसे आम है। महिलाएं शुरुआती जांच और इलाज से अक्सर ही बचने की कोशिश करती हैं। इस देरी की वजह से महिलाओं में कैंसर के कारण होने वाली मौतों में इजाफ़ा हो रहा है। भोपाल जैसे बड़े शहरों में दोनों लिंगों में ही फेफड़ों के कैंसर के मामले बढ़ रहे हैं। इस क्षेत्र में पुरुषों द्वारा काफी तंबाकू, पान और सुपारी का सेवन करने और महिलाओं में स्तन के रोग और गायनेकोलॉजिकल कैंसर होने के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र, हम शहर में नियमित रूप से मासिक ओपीडी आयोजित करने के लिए प्रेरित हुए, जिसमें कोविड​-19 और लॉकडाउन की वजह से देरी होती आई है।”

इस बीच, HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स, नई दिल्ली ने ई ओपीडी सुविधा शुरू की है जो लाभप्रद है और इससे क्षेत्र के रोगियों को विशेषज्ञों की राय लेने में मदद मिलेगी और वे आगे निदान और उपचार करा सकते हैं। इस सेवा का उद्देश्य कैंसर के साथ ही उच्च-स्तरीय प्रक्रियाओं और उपचारों की उपलब्धता के बारे में जागरूकता फ़ैलाना भी है। प्रसिद्ध चिकित्सा ऑन्कोलॉजिस्ट इस सेवा का संचालन करेंगे, और इस जानलेवा बीमारी का मुकाबला करने के लिए HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ इलाज और देखभाल और स्वस्थ जीवन के तरीकों की जानकारी देगा।

उचित स्क्रीनिंग और समय पर इलाज करवाने के साथ शुरुआती जांच पर तुरंत जागरूकता फैलाने की ज़रूरत है। इसका उद्देश्य भोपाल और उसके आस-पास के क्षेत्रों के कैंसर रोगियों को व्यापक और उच्च गुणवत्ता वाली देखभाल मुहैया कराना है।

विशेषज्ञों के अनुसार, धूम्रपान के साथ ही तंबाकू बचाना और पैसिव स्मोकिंग, वायु प्रदूषण, पारिवारिक इतिहास, वायरस का संक्रमण, और पर्यावरणीय जोखिम कैंसर के प्रमुख कारणों में से एक है।

HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स में अत्याधुनिक और विश्वस्तरीय रोगी देखभाल वाला, ऑन्कोलॉजी का उत्कृष्टता केंद्र है। यह उन लोगों के लिए अत्याधुनिक उपचार भी प्रदान करेगा जो सिर और गले के कैंसर, स्तन, जीआई, गायनेकोलॉजिकल और अन्य प्रकार के कैंसर से पीड़ित हैं और जिन्हें उन्नत इलाज की ज़रूरत है। 

डॉ. गुलिया ने कहा, “हम लोगों को इस बारे में जागरुक करना चाहते हैं कि शुरुआती जांच या पहचान से कैंसर के इलाज में काफी मदद मिलती है। अगर जल्दी पता चल जाए तो सिर और गर्दन, स्तन, सर्वाइकल और कई अन्य कैंसर ठीक होते हैं। दुर्भाग्य से, हमें अधिकांश मामले स्थिति बिगड़ने पर पता चलते हैं। प्रारंभिक चरण में सर्जरी बेहतर इलाज देती है। स्थिति बिगड़ने में भी उपचार से अक्सर कैंसर की प्रगति को धीमा किया जा सकता है।”

इस क्षेत्र में कैंसर के बढ़ते मामलों की वजह से ज़्यादा उन्नत उपचार और देखभाल की ज़रूरत है। HCMCT मणिपाल हॉस्पिटल्स मौजूदा कमियों को दूर करने की कोशिश करता है।

आगे की किसी भी पूछताछ या अपॉइंटमें के लिए संपर्क करें: आशीष पुष्पड़-9301998894 / पायल सिंह- 9910889385