ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
नितिन गडकरी ने अमेजन के एक्सपोर्ट डाइजेस्ट 2020 का उद्घाटन किया
July 20, 2020 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

एमएसएमई सेक्टर का तेजी से पुनरुद्धार करने के लिए निर्यात को बढ़ावा देने पर विशेष ध्यान देना समय की आवश्यकता है - श्री नितिन गडकरी

बेंगलुरु / नितिन गडकरी, माननीय केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रीय और केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री, भारत सरकार ने अमेजन इंडिया ‘एक्सपोर्ट्स डाइजेस्ट 2020’ का उद्घाटन किया, जो मजबूती से इस बात की पुष्टि करता है कि एमएसएमई सेक्टसर का तेजी से पुनरुद्धार करने के लिए निर्यात को बढ़ावा देना होगा। लॉन्च के अवसर पर, अमेजन ने घोषणा किया कि अमेजन ग्लोबल सेलिंग प्रोग्राम पर भारतीय विक्रेताओं के जरिये संचयी निर्यात 2 बिलियन अमेरिकी डॉलर पार कर गया है। दुनिया भर में ऑनलाइन बिक्री करते हुए भारतीय व्यवसायों की प्रगति के उद्देश्यर से, जनवरी 2020 में, अमेजन ने 2025 तक 10 बिलियन अमेरिकी डॉलर का संचयी निर्यात में करने का संकल्प  लिया था। अमेजन ग्लोबल सेलिंग आज अमेरिका, ब्रिटेन, यूएई, कनाडा, मैक्सिको, जर्मनी, इटली, फ्रांस, स्पेन, नीदरलैंड, तुर्की, ब्राजील, जापान, ऑस्ट्रेलिया और सिंगापुर जैसे देशों में अपनी 15 अंतर्राष्ट्रीय वेबसाइटों के माध्यम से 60,000 से अधिक भारतीय निर्यातकों को सक्षम बनाता है, ताकि वे दुनिया भर में ग्राहकों को श्मेड इन इंडियाश् उत्पाद बेच सकें। 2019 में, प्रोग्राम में शामिल 800 से अधिक भारतीय एमएसएमई ने ई-कॉमर्स निर्यात बिक्री में 131,375 अमेरिकी डॉलर (1 करोड़ रुपये) की बिक्री को पार कर लिया।
इस अवसर पर नितिन गडकरी ने कहा कि “मैं उन सभी एमएसएमई को बधाई देना चाहता हूँ जो अमेजन के साथ अपने स्थानीय रूप से निर्मित उत्पादों को दुनिया भर में ले जाने का काम कर रहे हैं। यह भारतीय एमएसएमई के कौशल और उद्यमशीलता की भावना का साक्षी है। एमएसएमई सेक्टैर प्रमुख रोजगार निर्माता और भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ है, जो भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 28ः और देश के निर्यात में लगभग 48ः का योगदान देता है। वे देश के आर्थिक पुनरुत्थान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहेंगे और मौजूदा वैश्वियक महामारी को दूर करने में मदद करेंगे। निर्यात सरकार के लिए एक प्रमुख प्राथमिकता है और हम भारतीय एमएसएमई को अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अधिक सफल बनाने और निर्यात में एमएसएमई के हिस्सेर को 60ः तक बढ़ाने में मदद करने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।”
अमित अग्रवाल, सीनियर वीपी एवं कंट्री हेड, अमेजन इंडिया ने कहा कि श्श्हम अमेजन ग्लोबल सेलिंग पर भारतीय एमएसएमई और ब्रांड द्वारा तेजी से हासिल की गई वृद्धि से उत्साहित हैं। भारत से संचयी निर्यात में 2 बिलियन अमेरिकी डॉलर के माइलस्टो न को पार करने के लिए, प्रोग्राम को 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर का बिजनेस करने में तीन साल लग गए, लेकिन पिछले 18 महीनों से कम समय में ही इसने अगले 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर का बिजनेस करने के लिए 100 प्रतिशत तैयारी कर ली है।यह प्रोग्राम भारत से निर्यात को तेजी से बढ़ा रहा है और वैश्विक भारतीय ब्रांड के निर्माण में मदद कर रहा है। हम एमएसएमईके लिए मजबूत आधार बनाने के लिए उत्साहित हैं ताकि वे अपनी निर्यात क्षमता का लाभ उठा सकें और एक आत्मनिर्भर भारत की नजरिया बनाने में अपना योगदान कर सकें। हम भारतीय उद्यमियों और सभी व्यवसायों के लिए निर्यात को आसान बनाना जारी रखेंगे और 2025 तक ई-कॉमर्स निर्यात में 10 बिलियन अमेरिकी डॉलर का बिजनेस करने के अपने संकल्प  को साकार करेंगे।ष्
अमित अग्रवाल ने कहा कि “जैसा कि दुनिया भर में लोग पिछले कुछ महीनों से घर में ही रह रहे हैं, यह देखना प्रसन्नाता की बात है कि हजारों भारतीय एमएसएमई, जो ग्लोबल सेलिंग प्रोग्राम का हिस्सा हैं, दुनिया भर में ग्राहकों की जरूरतों को सफलतापूर्वक पूरा कर रहे हैं। इस चुनौतीपूर्ण समय में, ई-कॉमर्स निर्यात ने इन भारतीय निर्यातकों के लिए एक मजबूत मॉडल प्रदान किया है जो उन्हें अपने व्यवसाय को बनाए रखने में मदद करता है तथा अपने व्यवसाय पर निर्भर रहने वाले लोगों और उनके परिवारों की मदद करता है। भारतीय एमएसएमईद्वारा किये जाने वाले निर्यात के लिए अमेजन ग्लोबल सेलिंग आसान और तेज चैनल उपलब्ध कराना जारी रखेगा।