ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
न्यूजीलैड-भारत एजुकेशन वीक शिक्षा के क्षेत्र में नवीनता लाया
October 6, 2020 • SRISHTI SHARMA • शिक्षा

न्यूजीलैंड ने भारतीय और न्यूजीलैंड शिक्षा क्षेत्र के विकासशील लीडर्स के साथ न्यूजीलैंड-भारत एजुकेशन सप्ताह का उद्घाटन किया

दिल्ली : एजुकेशन वीक का उद्देश्य उन रुझानों पर चर्चा करना है जो कि COVID-19 युग के बाद विश्व स्तर पर शिक्षा के क्षेत्र के भविष्य को संचालित करेंगे। इस समारोह में न्यूजीलैंड और भारत के शिक्षा उदयोग की कछ प्रमुख हस्तियों ने पैनल डिस्कशन के दौरान अपने विचार प्रस्तुत किए। समारोह के अगले दिनों में न्यूजीलैंड के विश्वविद्यालयों से विशेषज्ञ शिक्षाविदों द्वारा संचालित मास्टरक्लास दिखाए गए; इसमें पूर्व भारतीय छात्रों के साथ ओपन हाउस हुआ और न्यूजीलैंड की स्वदेशी माओरी संस्कृति का एक रोमांचक प्रदर्शन प्रस्तुत किया गया ।

डेविड पाइन, भारत और बांग्लादेश में न्यूजीलैंड के उच्चायुक्त और नेपाल में राजदूत पद के लिए नामित ने एनजेड-इंडिया वीक के उद्घाटन सत्र में बोलते हुए कहा, “COVID-19 महामारी ने इतिहास में शिक्षा प्रणालियों में सबसे बड़ा व्यवधान पैदा किया है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार 190 से अधिक देशों में लगभग 1.6 बिलियन शिक्षार्थियों पर इसका असर देखा गया है । लेकिन इसके बावजूद संकट ने शिक्षा क्षेत्र के भीतर नवाचार को भी बढ़ावा दिया हैहमने विश्व स्तर पर शिक्षा और प्रशिक्षण के समर्थन में अभिनव दृष्टिकोण देखे हैं। "

जॉन लैक्सों, एजुकेशन न्यूजीलैंड के क्षेत्रीय निदेशक, एशिया ने कहा, "हम एक महत्वपूर्ण बदलाव देख रहे हैं क्योंकि COVID-19 के चलते शिक्षा प्रणालियों को छात्रों के साथ दूरस्थ एवं डिजिटल रूप से इस प्रकार जुड़ने की आवश्यकता है जिस से हर एक छात्र की शिक्षा उसके अधिक अनुकूल बनाई जा सके न्यूजीलैंड ने इस क्षेत्र में नेतृत्व किया है, जिसके चलते अर्थशास्त्री इंटेलिजेंस यूनिट के 'एजुकेशन फॉर द फ्यूचर इंडेक्स' द्वारा इसे सर्वश्रेष्ठ अंग्रेजी-भाषा शिक्षा प्रणाली के रूप में मूल्यांकित किया गया है।