ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
फ्लिपकार्ट ने करीब 9,000 किराना दुकानों के साथ किया तालमेल
September 25, 2020 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

                           

फ्लिपकार्ट ने आगामी त्योंहारों के मद्देनजर पश्चिम भारत में डिलीवरी के लिए करीब 9,000 किराना दुकानों के साथ किया तालमेल
नई दिल्ली : त्योहारी मौसम और बिग बिलियन डेज की तैयारियों के मद्देनजर, भारत के स्वदेशी ई-मार्केटप्लेेस फ्लिपकार्ट ने अपने किराना ऑनबोर्डिंग प्रोग्राम में और विस्तार कर पश्चिम भारत के करीब 9,000 किराना स्टोर्स को अपनी इस पहल से जोड़ा है। यह विस्तार फ्लिपकार्ट द्वारा 50,000 से ज्यादा किराना स्टोर्स से जुड़ने के प्रोग्राम का हिस्सा है जिसका मकसद देशभर के लाखों ग्राहकों तक पर्सनलाइज्ड ई-कॉमर्स अनुभव को पहुंचाने के साथ-साथ किराना मालिकों को डिजिटल अपस्किलिंग तथा अतिरिक्त आमदनी का लाभ दिलाना है। 

अमितेश झा, सीनियर वाइस-प्रेसीडेंट, ई-कॉर्ट एंड मार्केटप्लेस, फ्लिपकार्ट ने कहा, फ्लिपकार्ट अपने इकोसिस्ट्म से जुड़े सभी हितधारकों को टैक्नोलॉजी आधारित विकास का लाभ दिलाने के लिए समर्पित है और हमारे किराना पार्टनर इस व्यवस्था का अहम् हिस्सा है। देश में रिटेल बाजार के सबसे पुराने अंग के तौर पर किराना दुकानों की पैठ देश के दूरदराज तक के क्षेत्रों में है और ये अपनी पूरी सप्लाई चेन जैसे सुविधाएं, इन्वेंट्री इंफॉरमेशन एवं सोर्सिंग का कारगर तरीके से प्रबंधन करने के साथ-साथ उपभोक्ताओं के साथ भी लंबे समय से मधुर संबंध रखते आए हैं। इन किराना स्टोर्स की हाइपर लोकल मौजूदगी का मेल फ्लिपकार्ट की इनोवेशन से करवाते हुए यह प्रोग्राम अब देश में किराना इकोसिस्टिम को मजबूत बना रहा है। हम देशभर के किराना स्टोर्स की बढ़ती भागीदारी को देखकर प्रसन्नता का अनुभव कर रहे हैं जो खुद को नए दौर के हिसाब से तैयार कर तेजी से बढ़ रहे ई-कॉमर्स उद्योग से जुड़ रहे हैं।

इन किराना स्टोेर्स के साथ जुड़कर उन्हें इस त्योहारी सीजन में सक्रिय भागीदारी के लिए प्रोत्साहित करने के मकसद से, फ्लिपकार्ट टीम ने इन स्टोर्स को प्रोग्राम से जोड़ा है। इसके लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म की मदद ली गई ताकि उन्हें साथ लाने की प्रक्रिया कॉन्टैक्टलैस हो और किराना पार्टनर अपना विवरण तथा कागजात की प्रति सीधे अपलोड कर सके। इस तरह कोविड19 के दौर में उन्हें इस काम के लिए कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं थी। इसके बाद किराना पार्टनर्स की पूरी जांच-पड़ताल की गई और तब उन्हें शिपमेंट डिलीवरी की हरी झंडी दिखायी गई। टीम ने उनके लिए एप आरित डैशबोर्ड और डिजिटल पेमेंट आदि से संबंधित डिजिटल प्रशिक्षण की भी व्यवस्था की ताकि ये किराना स्टोंर खुद को पारंपरिक दुकानों की बजाय आधुनिक सुविधा स्टोेर्स में बदल सकें। 

पश्चिम भारत के कई शहरों जैसे मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, सूरत, नागपुर, औरंगाबाद और नासिक तक फ्लिपकार्ट के किराना प्रोग्राम के विस्तार ने क्षेत्र के किराना स्टोर्स और उपभोक्ताओं को देश के तेजी से बढ़ रहे डिजिटल कॉमर्स से जोड़कर, ई-कॉमर्स को अधिक समावेशी बनाया है। यह ग्राहकों की संतुष्टि सुनिश्चित करने के साथ-साथ आगामी त्योहारी सीजन में अतिरिक्त मांग को पूरा करने के लिए आवश्यक क्षमता तैयार करने में भी मददगार होगी। इन किराना दुकानों में जनरल ट्रेड स्टोर्स, बेकरी से लेकर दर्जी की दुकानें शामिल हैं जिन्होंने आसपास के इलाकों में शिपमेंट भेजने के साथ-साथ अपना समय और जगह उपलब्ध कराने की इच्छा जतायी है।