ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
स्टार भारत के शो 'कार्तिक पूर्णिमा' में, कार्तिक पर जल्द चढ़ेगा पूर्णिमा के प्यार का रंग!
February 11, 2020 • SRISHTI SHARMA • मनोरंजन

स्टार भारत के शो 'कार्तिक पूर्णिमा' में, कार्तिक पर जल्द चढ़ेगा पूर्णिमा के प्यार का रंग!

भोपाल : हमारे समाज की बड़ी विडंबना है, कि आज के जागरूक माहौल में भी त्वचा के रंग के आधार पर बहत भेदभाव किया जाता हैअगर आप गोरे हैं, तो आप बेहद खूबसूरत हैं और अगर आप साँवली रंगत वाले हैं. तो आपकी सारी खबियों को नजरअंदाज़ कर, आपके साँवलेपन को आपकी सबसे बड़ी कमी करार दे दिया जाता है। लेकिन वास्तव में किसी की खबसरती गोरे या काले रंग से नहीं. बल्कि उसकी अंदरूनी खूबियों से होती है और किसी के रंग से प्रभावित न होकर, उसके जीने के ढंग से प्यार करने वाले लोग भी दुनिया में मौजूद हैं

स्टार भारत एक ऐसी ही दिल को लेने वाली खूबसूरत कहानी 'कार्तिक पूर्णिमा' लेकर आया है। यह कहानी है अमृतसर में रहने वाली 'पूर्णिमा' की है, जिसका रंग भले ही साँवला है पर उसका मन उतना ही साफ़ हैपूर्णिमा को लगता है कि उसका साँवला रंग उसकी माँ का आशीर्वाद है और उसे अपनी साँवली रंगत पर कोई अफ़सोस नहीं है, लेकिन पूर्णिमा की सौतेली माँ और बहन के अलावा भी समाज के कई लोग उसके रंग को लेकर उसे ताने मारते रहते हैं। इन सभी तनावों से जूझते हुए भी पूर्णिमा अपने आत्मविश्वास पर अडिग रहती है। इसी बीच उसकी ज़िंदगी में आता है 'कार्तिक', जो पूर्णिमा के रंग पर नहीं, उसके जीने के ढंग पर मर मिटता हैवो पूर्णिमा को उसी रूप में स्वीकार करता है, जैसी वो है। कार्तिक और पूर्णिमा का प्यार परवान चढ़ता है। पर दरअसल मुसीबतें तो तब शुरू होती है जब यह दोनों शादी कर लेते हैं। कार्तिक की माँ को साँवले रंग वालों से सख़्त नफ़रत है। ऐसे में अपनी ही बहू को इस रूप में स्वीकार करना उनके लिए नामुमकिन हो जाता है। अपनी सास का दिल जीतने की कोशिश से शुरू होती है पूर्णिमा की असली लड़ाई। आख़िर कैसे लड़ पाती है पूर्णिमा यह लड़ाई? क्या वो अपने आत्मविश्वास और प्यार की ताक़त से कार्तिक की माँ के दिल में जगह बना पाती है? क्या रंगभेद करने वाले इस समाज को वह मुंहतोड़ जवाब दे पाती है? जानने के लिए देखिए साँवली सलोनी पूर्णिमा और असली खूबसूरती को पहचानने वाले कार्तिक के प्यार की कहानी 'कार्तिक पूर्णिमा' सिर्फ़ स्टार भारत पर।

रोलिंग पिक्चर्ज़ द्वारा प्रोड्यूस किए गए 'कार्तिक पूर्णिमा' शो को दर्शक हर सोमवार से शनिवार, रात 8.30 बजे, सिर्फ़ स्टार भारत पर देख रहे हैं। इस शो के मुख्य किरदारों में आकर्षक और प्रतिभावान ऐक्टर हर्ष नागर और डस्की ब्यूटी का उदाहरण पेश करने वाली खूबसूरत ऐक्ट्रेस पौलोमी दास हैं, और कार्तिक की माँ का किरदार मँजी हुई और चर्चित कलाकार कविता घई निभा रही हैं।

शो में कार्तिक का किरदार निभा रहे ऐक्टर और मॉडल हर्ष नागर ने बताया,"यह किरदार मेरे लिए बहत अलग है। मैंने इससे पहले केवल टीनएज वाले किरदार निभाए हैं। इस शो में मैं कार्तिक का किरदार निभा रहा हूँ, जो एक नामी सर्जन है। माँ के आदर्शवादी बेटे कार्तिक को एक साँवली लड़की पूर्णिमा से प्यार हो जाता है, जिसका सफ़र दोनों साथ मिलकर तय करते हैं। कार्तिक पूर्णिमा शो की कहानी एक खूबसूरत लवस्टोरी है, जिसमें ये दोनों समाज की रूढ़िवादी सोच से लड़कर, अपने प्यार को पूरा करते हैं।" भोपाल विज़िट पर बात करते हुए हर्ष ने कहा "यह झीलों का शहर बहुत खूबसूरत है और यहाँ के लोग बहुत दिलदार। यहाँ के ज़ायके का तो जवाब ही नहीं। यहाँ का स्ट्रीट फूड खाकर मुझे अपनी पुरानी दिल्ली का स्वाद याद आ गया।"

माशो के प्रमोशन के लिए भोपाल पहुँची ऐक्ट्रेस पौलोमी दास ने बताया "बतौर लीड ऐक्ट्रेस यह मेरा पहला शो है। मैं खुद को बहुत लकी समझती हूँ कि पूर्णिमा के किरदार के लिए मुझे चुना गया। इस शो के कॉन्सेप्ट के ज़रिए मैं समाज को सूरत नहीं सीरत का महत्व समझा पाउँगीयह कहानी पूर्णिमा और कार्तिक के अनोखे प्यार का सफ़र पेश करेगी, जिसे देखकर दर्शकों पर प्यार का नया रंग ज़रूर चढ़ेगा।" भोपाल विज़िट पर अपनी राय रखते हुए पौलोमी ने कहा "मुझे इस शहर की झीलें और यहाँ की हरियाली मन को छू गई। इसके अलावा यहाँ मैंने जमकर शॉपिंग भी की, साथ ही अपने और अपनी सहेलियों के लिए यहाँ के फ़ेमस बीडवर्क वाले कलरफुल भोपाली बटुए खरीदे । मैं विश करती हूँ, कि मैं दोबारा इस शहर में आ सकूँ।"

‘कार्तिक पूर्णिमा' शो की स्टार कास्ट में अन्य कई दिग्गज कलाकारों के नाम भी शामिल हैं, जिसमें गीतांजलि मिश्रा, रवि गोसाईं, मोहित चौहान, मीनाक्षी वर्मा, श्रद्धा जायसवाल, चिराग़ महबुबाबी, निधि शाह, प्राप्ति शुक्ला जैसे अन्य कलाकार भी दर्शकों को नज़र आने वाले हैं।

देखिए 'कार्तिक पूर्णिमा' शो, हर सोमवार से शनिवार, रात 8:30 बजे, सिर्फ़ स्टार भारत पर।