ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
स्वास्थ्यकर्मियों एवं नॉन-कोविड मरीजों के परिवहन के लिए ऊबर मध्यप्रदेश सरकार को 15 लाख रु. मूल्य की निशुल्क राईड प्रदान करेगा
May 6, 2020 • SRISHTI SHARMA • स्वास्थ्य

 भोपाल और इंदौर में स्वास्थ्यकर्मियों एवं नॉन-कोविड मरीजों के परिवहन के लिए निशुल्क राईड प्रदान करने के लिए ऊबर ने मध्यप्रदेश सरकार के साथ साझेदारी की।

भोपाल / ऊबर ने मध्यप्रदेश सरकार को इमरजेंसी सेवाओं के लिए 15 लाख रु. मूल्य की निशुल्क राईड्स प्रस्तुत की, जिसके तहत इसकी हाल ही में लॉन्च की गई ऊबरमेडिक सेवा द्वारा इंदौर और भोपाल के अस्पतालों में अग्रिम कतार में रहकर काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों एवं नॉन-कोविड मरीजों को परिवहन का साधन उपलब्ध कराया जाएगा।

इस ऑफर के तहत ऊबर ने दोनों शहरों में हैल्थ कमिश्नर के कार्यालय के साथ साझेदारी की है। इस साझेदारी के अंतर्गत 50 ऊबरमेडिक कारें विभिन्न सरकारी अस्पतालों के साथ सामंजस्य में अग्रिम कतार में रहकर काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों एवं नॉन-कोविड मरीजों को परिवहन का निशुल्क साधन उपलब्ध कराएंगी।

इसके अलावा, जरूरी परिवहन सेवा देते हुए सुरक्षा व हाईजीन के स्तर बनाए रखने के लिए सभी ड्राईवर्स को सुरक्षा उपायों पर प्रशिक्षण के अलावा पर्सनल प्रोटेक्टिव ईक्विपमेंट, जैसे मास्क, ग्लव, सैनिटाईजर एवं डिसइन्फैक्टेंट दिए गए हैं, ताकि हर राईड से पहले व बाद में कार को सैनिटाईज किया जा सके

ऊबर द्वारा हाल ही में लॉन्च की गई ऊबरमेडिक सेवा 23 भारतीय शहरों के 35 से ज्यादा अस्पतालों में अग्रिम कतार में रहकर काम कर रहे मेडिकलकर्मियों को परिवहन उपलब्ध करा रही है।

मध्यप्रदेश सरकार को सहयोग करने के लिए निशुल्क राईड सीईओ दारा खोसरोशाही द्वारा घोषित ऊबर की ग्लोबल प्रतिबद्धता का हिस्सा है, जिसके तहत ऊबर स्वास्थ्यकर्मियों, वरिष्ठ नागरिकों एवं जरूरतमंद लोगों को 10 मिलियन राईड्स एवं फूड डिलीवरी निशुल्क प्रदान करेगा।

इस सहयोग के बारे में प्रभजीत सिंह, डायरेक्टर, ऑपरेशंस एवं हेड ऑफ सिटीज़, ऊबर इंडिया व साउथ एशिया ने कहा, "मध्यप्रदेश सरकार कॉर्पोरेशन कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए निरंतर कार्य कर रही है। इस चुनौतीपूर्ण वक्त में हमारी खुशकिस्मती है कि हमें उनका सहयोग करने का मौका मिल रहा है। हम अपने वैश्विक अनुभव, टेक्नॉलॉजी एवं ड्राईवर्स के नेटवर्क का इस्तेमाल कर जरूरी चीजों का आवागमन सुनिश्चित करने में मदद करेंगे।"