ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
टाटा मोटर्स और इंडियन ऑयल ने आईओसीएल नरसापुरा में दूसरा सारथी आराम केंद्र लॉन्च किया
December 5, 2019 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

इस पहल से कॉमर्शियल वाहनों के ड्राइवरों को रास्ते में रुककर सुविधाजनक ढंग से आराम करने का मौका मिलेगा। इससे सड़क पर काम करने की स्थितियों में सुधार आएगा और सुरक्षा में बढ़ोतरी होगी

भोपाल : भारत के सबसे बड़े वाणिज्यिक वाहनों के निर्माता टाटा मोटर्स ने देश की सबसे बड़ी वाणिज्यिक तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आइओसीएल) के साथ मिलकर ड्राइवर समुदाय का समर्थन करने और उन्हें ऑन रोड सुविधाएं प्रदान करने के संकल्‍प को बरकरार रखा है। इसके तहत राष्ट्रीय राजमार्ग-4 पर कर्नाटक में बेंगलुरु के पास कोको नरसापुर में ड्राइवरों की सुविधा के लिए दूसरा सारथी आराम केंद्र लॉन्च किया है। यह पहल सड़क पर लगातार चलने वाले कॉमर्शियल वाहनों के ड्राइवरों की स्थिति सुधारेगी और उन्हें आराम करने के लिए जगह मुहैया कराएगी। सारथी आराम केंद्र की लॉन्चिंग के मौके पर टाटा मोटर्स और आईओसीएल के वरिष्ठ अधिकारी, चैनल पार्टनर्स, सेल्स और सर्विस टीम और 70 ड्राइवर मौजूद थे।

इंडियन ऑयल कई फ्लैगशिप रिटेल आउटलेट की चेन का संचालन करती है। जहां सुरक्षित पार्किग, सीसीटीवी, रेस्टोरेंट, रेस्ट रूम, खुले में नहाने की सुविधा, आराम करने  की सुविधा, वाई-फाई, अपने आप खाना बनाने और लॉन्ड्री की सुविधाएं उपलब्ध रहती हैं। इसके अलावा यहां साफ टॉयलेट और स्वच्छ पीने के पानी की सुविधाएं भी ड्राइवरों को मिलती है। ये केंद्र मुख्य रूप से सारथी (कॉमर्शियल वाहनों के ड्राइवरों) के लिए सभी तरह की सुविधाएं प्रदान करने के मकसद से बनाए गए हैं।

 टाटा मोटर्स ड्राइवरों ने सारथी आराम केंद्र में ड्राइवरों को सुविधाएं देने के लिए आईओसीएल से साझेदारी की है। यहां ऑन साइट वाहनों की सर्विसिंग की सुविधा भी मुहैया कराई गई है। यहां ड्राइवरों को चिकित्सा भी दी जाती है। ड्राइवरों को रास्ते में आराम करने और अन्य मूलभूत आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कर ड्राइवरों के प्रयास की पहचान करने की दिशा में कदम उठाया है। नरसापुर के सारथी आराम केंद्र में दी गई इन सुविधाओं से रोजाना 100 से ज्यादा सारथियों के लाभ उठाने की उम्मीद है।

टाटा मोटर्स लिमिटेड में सीवीबीयू और मार्केटिंग और सेल्स विभाग के वाइस प्रेसिडेंट श्री राजेश काबुल ने बताया, टाटा मोटर्स में हमने यह पहचान की है कि देश में 50 फीसदी से ज्यादा माल ट्रांसपोर्ट से एक जगह से दूसरी जगह भेजा जाता है। इसलिए कॉमर्शियल वाहन के ड्राइवरों को हमारी भारतीय अर्थव्‍यवस्था की रीढ़ की हड्डी कहा जाता है। सारथी आराम केंद्र की पहल करते समय इस तथ्य का संज्ञान लिया गया। इसका लक्ष्य ड्राइवरों को ऐसा माहौल प्रदान करना है, जहां सारथियों को उनकी  जरूरत का सामान आसानी से मिलेगा। इससे वह लंबी यात्राओं के बाद तनाव में नहीं आएंगे क्योंकि उन्हें इन केंद्रों पर आराम कर खुद को तनावमुक्त करने का अवसर मिलेगा। हम सारथियों को आराम और सुरक्षा प्रदान करने की इस पहल में इंडियन ऑयल से जुड़कर काफी खुश है।

 इंडियन ऑयल के सीजीएम (आरएस), एचओ श्री सुब्रत कार ने सारथी आराम केंद्र पर अपने विचार प्रकट करते हुए कहा, टाटा मोटर्स और  इंडियन ऑयल ने पहले भी कई व्यापारिक साझेदारी की है। एनएच-8 पर बावल में पहले सारथी आराम केंद्र के बाद इस दूसरे केंद्र से ड्राइवर समुदाय पर विश्वास और बढ़ेगा। इंडियन ऑयल ने ड्राइवरों को केंद्र में रखकर हाइवे के रिटेल आउटलेट पर कई पहल की हैं। सारथी आराम केंद्र का निर्माण आईओसीएल और टीएमएल के मुख्य मूल्यों के आधार पर किया गया है। यह एक अनोखी पहल है, जिससे कॉमर्शियल वाहनो के ड्राइवरों की जरूरतें पूरी होंगी। हमारा लक्ष्य इन ड्राइवरों के योगदान का जश्न मनाना है, जिनकी काफी मेहनत का काम करने के बाद भी उनके परिश्रम की कोई कद्र नहीं होती और उन्हें हाशिए पर डाल दिया जाता है।

 सारथी आराम केंद्र की पहल का हिस्सा ड्राइवरों के कल्याण कार्यक्रम से जुड़ा है। इसमें टाटा मोटर्स समर्थ पहल भी शामिल है, जिसमें दुर्घटना बीमा, अस्पताल में भर्ती होने का कवर,वित्तीय काउंसिलिंग और बच्चों के  लिए शिक्षा की सहायता में पैकेज शामिल है। सारथियों और उनके परिवारों की आर्थिक और सामाजिक बेहतरी और स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने के मकसद से यह पहल की गई है। 

 इसी नक्शेकदम पर चलते हुए इंडियन ऑयल ने बड़े फॉर्मेट के आरओ और सराय बनाई है, जो कॉमर्शियल वाहनों में लंबी दूरी की यात्रा करने वाले ड्राइवरों को सहूलियत देते हैं। ड्राइवरों को सुरक्षित रूप से गाड़ी चलाने में मदद देने के लिए उजाला के नाम से नियमित रूप से आंखों की जांच कैंप लगाया जाता है। ड्राइवरों की भलाई के लिए इंडियन ऑयल ने ड्राइवर किट का भी वितरण किया है। 

अपनी तरह की अनोखी पहल सारथी आराम केंद्र का उद्घाटन आईओसीएल के ईडी (आरएस), एचओ श्री विज्ञान कुमार और टाटा मोटर्स में सीबीवीयू के प्रेसिडेंट श्री गिरीश वाघ ने इस वर्ष मई में एनएच-8 पर हरियाणा के बावल में किया था। आज इस पहल के तहत शुरू की गई सेवाओं से 50 से ज्यादा ड्राइवर लाभ उठा रहे हैं। इसके अलावा टाटा मोटर्स और आईओसीएल प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों पर आने वाले समय में कॉमर्शियल वाहनों के ड्राइवरों की जरूरतों को पूरा करने के लिए उन्हें और सुविधाएं उपलब्ध करने की योजना बना रहे हैं।