ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
टाटा मोटर्स को विभिन्न राज्य परिवहन उपक्रमों से लगभग 2300 बसों की आपूर्ति का ऑर्डर मिला
December 3, 2019 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

बसों का डिजाइन शहर के भीतर परिवहन की विभिन्न आवश्यकताओं के लिये क्षमता और लोचशीलता प्रदान करता है

मुंबई : सार्वजनिक परिवहन के लिये सर्वश्रेष्ठ श्रेणी के समाधान प्रदान करने की अपनी प्रतिबद्धता की पुनःपुष्टि करते हुए, भारत के अग्रणी बस ब्राण्ड टाटा मोटर्स ने आज घोषणा की है कि उसे विभिन्न राज्य परिवहन उपक्रमों से लगभग 2300 बसों का बड़ा ऑर्डर मिला है, जिनके नाम हैं-  राजस्थान (RSRTC), कर्नाटक (KSRTC/ BMTC/ NWKRTC), उत्तर प्रदेश (UPSRTC), तमिलनाडु (IRT) और आंध्र प्रदेश (APSRTC)। टाटा मोटर्स फरवरी 2020 तक यह ऑर्डर पूरा करने के लिये काम कर रहा है।

देश का सबसे बड़ा बस उत्पादक होने के नाते, टाटा मोटर्स वर्तमान में रोजमर्रा की यात्रा सम्बंधी आवश्यकताओं के लिये बसों की व्यापक श्रृंखला की पेशकश करता है- इसमें लक्जरी इंटरसिटी यात्रा से लेकर सुरक्षित परिवहन और ड्राइवर-हितैषी विकल्प शामिल हैं। कंपनी इस सेगमेंट का नेतृत्‍व करती है और इसने न सिर्फ टेक्‍नोलॉजी से सम्बंधित मापदंड स्थापित किये हैं बल्कि नवाचारों को प्रभावी ढंग से अपनाया है, ताकि भारत के शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में यात्रा सुगम हो सके।

 रोहित श्रीवास्तव, प्रोडक्ट लाइन हेड, बसेस, टाटा मोटर्स के अनुसार, ''सरकारें सार्वजनिक परिवहन के लिये स्मार्ट, सुरक्षित और सुलभ विकल्पों पर जोर दे रही हैं और टाटा मोटर्स भी सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के स्थायित्व हेतु विभिन्न राज्य परिवहन उपक्रमों के पूर्वसक्रिय दृष्टिकोण को समझता है। हमें गर्व है कि हम सर्वश्रेष्ठ श्रेणी के परिवहन समाधान प्रदान करने का अवसर प्राप्त करते हैं। विभिन्न क्षेत्रों और ग्राहकों के लिये स्थायी सार्वजनिक परिवहन की हमें गहरी समझ है, जो हमें अपने प्रतिस्पर्द्धियों से आगे रखती है। हमें लगभग 2300 टाटा मोटर्स बसों का ऑर्डर मिला है और हम सभी राज्य परिवहन उपक्रमों के साथ अपनी भागीदारी को जारी रखेंगे, ताकि वे अपने शहरों में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को मजबूत कर सकें।''

वर्तमान में टाटा मोटर्स पुणे, धारवाड़, पंतनगर और लखनऊ में बसों की डिजाइनिंग, विकास और उत्पादन करता है। बस बॉडी के लिये गोवा के ACGL के साथ भागीदारी के अलावा टाटा मोटर्स का ब्राजील के मार्कोपोलो एस.ए. के साथ संयुक्त उपक्रम भी है, जो विश्व के सबसे बड़े बस बॉडी उत्पादकों में से एक है और यह उपक्रम फुली बिल्ट बस (FBVs) समाधानों के लिये है। FBVs (फुली बिल्डिंग व्हीकल्स) के उत्पादन के लिये टाटा मोटर्स का दृष्टिकोण सुरक्षा, ईंधन की बचत, चौड़े बस गैंगवेज और सीएनजी तथा डीजल से चलने की लोचशीलता के संदर्भ में सरकार के नये नियमों के अनुसार है। टाटा मोटर्स के पास भविष्य के लिये तैयार बसों का व्यापक पोर्टफोलियो है, जिसकी सहायता से वह सार्वजनिक परिवहन में सक्रिय भूमिका निभाता रहेगा और स्थायी वृद्धि तथा लाभदेयता के बीच संतुलन की अपनी प्रतिबद्धता भी बनाये रखेगा।