ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने भारत में ताजे उत्पााद की आपूर्ति श्रृंखला वाले स्टारर्टअप निंजाकार्ट में किया निवेश
December 11, 2019 • SRISHTI SHARMA • बिज़नेस

संयुक्त निवेश से ताजे उत्पांदों के बाजार को आधुनिकृत करने के साथ-साथ
ग्राहकों, रिटेलरों और किसानों को मिलेगा लाभ

वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने  निंजाकार्ट में संयुक्त रणनीतिक निवेश की घोषणा की। निंजाकार्ट अपने मेड-फॉर-इंडिया बिजनेस-टु-बिजनेस (बी2बी) सप्लाई चेन इन्फ्रास्ट्राक्चंर और टैक्नोलॉजी सॉल्यूशंस से भारत के ताजा उत्पादों के बाजार में क्रांतिकारी बदलाव लाने वाला एक इनोवेटिव स्टार्टअप है। तीनों भागीदारों का लक्ष्य किसानों के लिए आर्थिक अवसर पैदा करते हुए पूरे भारत में खुदरा विक्रेताओं और उपभोक्ताओं तक उच्च गुणवत्ता वाली ताजा उपज की बेहतर पहुंच सुनिश्चित करना है। निंजाकार्ट के साथ साझेदारी से वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट को वॉलमार्ट इंडिया के बेस्ट प्राइस बी2बी कैश एंड कैरी स्टोर्स तथा फ्लिपकार्ट के ऑनलाइन किराना कारोबार सुपरमार्ट के लिए ताजा कृषि उत्पादों की सीधे सोर्सिंग करने में मदद मिलेगी। इस निवेश से निंजाकार्ट को अपना ग्राहक आधार बढ़ाने, नए शहरों तक पहुंच बनाने तथा स्थानीय ताजा उपज पारिस्थितिकी तंत्र की दक्षता बढ़ाने के लिए वैश्विक स्तर की सर्वोत्तम प्रणालियों से जुड़ने में मदद मिलेगी।

2015 में शुरू किए गए निंजाकार्ट भारत में ताजे उत्पाणदों के लिए एक नया बाजार प्रतिमान स्थापित कर रहा है। इन-हाउस विकसित परिष्कृत आपूर्ति श्रृंखला एल्गोरिदम का उपयोग करके, निंजाकार्ट समय पर सप्लाई चेन को संचालित करने के लिए बिग डेटा, प्रीडिक्टिव एनालिटिक्सल, मोबाइल ऐप्लिकेशंस और इंटरनेट ऑफ थिंग्स का लाभ उठा रहा है, जो भारत भर में 200 से अधिक संग्रह केंद्रों और 1,200 गोदामों के नेटवर्क के माध्यम से खुदरा विक्रेताओं को किसानों को जोड़ता है। यह प्रतिदिन 1,400 टन से अधिक ताजे उत्पादों की आपूर्ति करता है और पिछले चार महीने में इसका वॉल्यूम दोगुना हो गया है।

कल्याण कृष्णमूर्ति, सीईओ, फ्लिपकार्ट ग्रुप ने कहा, ''स्वदेसी ई-कॉमर्स कंपनी होने के नाते टैक्नोलॉजी के माध्यम से इन-हाउस जटिल स्थानीय समस्याओं को हल करने और बदलाव को बढ़ावा देना हमारे डीएनए में है। पिछले एक साल में फ्लिपकार्ट सुपरमार्ट का विकास करते हुए, हमने सही बुनियादी ढांचा तैयार करने, स्थानीय किसानों, उत्पादकों और खाद्य प्रसंस्करण कर्ताओं को सपोर्ट करने और पारिस्थितिकी तंत्र में स्थायित्व लाने पर ध्यान केंद्रित किया है, और साथ ही सभी मिलकर हजारों नए रोजगार पैदा कर रहे हैं और उपभोक्ताओं के लिए गुणवत्ता, सुविधा और मूल्य ला रहे हैं। निंजाकार्ट को हम एक ऐसी कंपनी के तौर पर देखते हैं जो हमारे मूल्यों हमारी अग्रणी विचारों और भारत जीवन में सुधार लाने के लिए तकनीक आधारित इनोवेशन की हमारी प्रतिबद्धता को साझा करती है।''

तिरुकुमारन नागराजन, सीईओ और सह-संस्थापक, निंजाकार्ट ने कहा, ''निंजाकार्ट फूड को अधिक सुरक्षित और ज्यादा सुलभ बनाने के साथ ही सभी के लिए उचित मूल्य सुनिश्चित करना चाहती है। हमें खुशी है कि फ्लिपकार्ट और वॉलमार्ट इस विजन को साकार करने के लिए हमारे साथ जुड़ रहे हैं और हमारी टैक्नोलॉजी और व्यवसाय मॉडल में भरोसा दिखा रहे हैं। उनके सहयोग को हम अपने किसानों, खुदरा विक्रेताओं और रेस्टोरेंट्स भागीदारों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए नई संभावना के तौर पर देख रहे हैं।”

कृष अय्यर, प्रेसिडेंट और सीईओ, वॉलमार्ट इंडिया ने कहा, ''निंजाकार्ट का सीधे खेत से आपूर्ति करने पर ध्यान है, जो भारत में किसानों की सहायता करने के वॉलमार्ट की प्रतिबद्धता के अनुकूल है। हम 2023 तक अपने बेस्ट प्राइस कैश एंड कैरी स्टोर्स में 25ः उत्पादों की सोर्सिंग सीधे किसानों से करने की अपनी प्रतिबद्धता की दिशा में काम कर रहे हैं। इससे बाजार तक उनकी पहुंच बढ़ाने और परिवहन लागत कम करने में मदद मिलेगी। निंजाकार्ट के साथ हमारी नई साझेदारी हमें छोटे जात वाले किसानों और ग्रामीण आय बढ़ाने के और अवसर पैदा करने में मदद करेगी, वहीं भारत भर में किराना, होटलों, रेस्टोरेंट्स और बिजनेस सहित हमारे सभी सदस्यों को उच्चे गुणवत्ता वाले उत्पावदों तक पहुंच बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।''

पेपरलेस निंजाकार्ट आपूर्ति श्रृंखला देश भर के सात शहरों में 44,000 से अधिक किसान आपूर्तिकर्ताओं और अपने ग्राहक आधार 60,000 से अधिक किराना दुकानों और रेस्टोरेंट्स के बीच एक सहज लिंक बनाती है। सिस्टम की दक्षता निंजाकार्ट को उत्पादों को खेत से स्टोर तक पहुंचाने के समय को नाटकीय रूप से कम करता है और अनुकूल तापमान पर परिवहन की सुविधा प्रदान कर लागत घटता है तथा फूड को बर्बाद होने से बचाता है। निंजाकार्ट आपूर्ति श्रृंखला के साथ 100 ट्रैसेबिलिटी प्रदान करता है और फूड की बर्बादी भी 1ः से भी कम होती है जबकि पारंपरिक आपूर्ति श्रृंखला में करीब 35ः फूड बर्बाद हो जाते हैं। 

निंजाकार्ट बाजार की जरूरतों के अनुरूप उच्चम गुणवत्ता के उत्पादों की भरोसेमंद आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए अपने किसान साझेदारों के साथ करीब से काम करता है। वह डेटा आधारित सुझाव देता है कि कौन सी फसल पैदा की जाए और फसलों की कटाई से पहले उसके सटीक दाम, मांग तथा मूल्य निर्धारण की जानकारी देता है जिससे किसानों को अपनी आय का पता लगाने में मदद मिलती है। पिछले दो साल में निंजाकार्ट अपने किसानों की आय में 15ः तक शुद्ध बढ़ोतरी करने में सफल रहा है और उत्पांद के उठाव से 24 घंटे के अंदर किसानों के बैंक खाते में उसका भुगतान आ जाता है।  

यह सौदा 2019 के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है।