ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स 2019 के नॉमिनेशन समारोह में इमोशनल हो गईं कुमकुम भाग्य और कुंडली भाग्य की लेडीज
November 25, 2019 • SRISHTI SHARMA • मनोरंजन

ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स 2019 के नॉमिनेशन समारोह में इमोशनल हो गईं कुमकुम भाग्य और कुंडली भाग्य की लेडीज

पिछले 27 वर्षों से ज़ी टीवी ने टेलीविजन के दर्शकों को ऐसी कहानियां परोसीं जो सीधे भारतीय मध्यम वर्ग की संवेदनाओं से जुड़ गईं और जिसमें उनकी उम्मीदों और अरमानों की झलक नजर आई। यह उन सभी एक्टर्स, डायरेक्टर्स, प्रोड्यूसर्स, क्रिएटिव टीम और तमाम टेक्नीशियन के सहयोग के बिना कभी मुमकिन नहीं हो पाता, जिन्होंने दिन-रात मेहनत करते हुए आपको आपके फेवरेट डेली प्राइमटाइम शोज़ दिए। साल-दर-साल ज़ी टीवी अपने सालाना समारोह ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स के साथ, इन सभी के योगदान को सम्मानित करने और दर्शकों के साथ बने इस खास रिश्ते का जश्न मनाने की परंपरा निभा रहा है। इस साल भी ज़ी टीवी ने सेलेब्रिटीज के अपने परिवार और क्रिएटिव टीम के लिए रेड कारपेट बिछाया, जिसमें ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स के लिए विभिन्न श्रेणियों में नॉमिनेशन की घोषणा की गई। जश्न की इस शाम में ज़ी टीवी के प्राइमटाइम शो के सभी कलाकार मस्ती में झूमते नजर आए।

जहां ज़ी का नया महाकुटुंब एक ही छत के नजर नीचे नजर आया, वहीं कुमकुम भाग्य और कुंडली भाग्य के परिवारों ने भी साथ मिलकर रेड कारपेट की रौनक बढ़ाई। इस समारोह के दौरान कुमकुम भाग्य और कुंडली भाग्य की लेडीज़ के बीच कुछ बेहद भावुक पल भी देखने को मिले। ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स की नॉमिनेशन पार्टी में होस्ट की भूमिका निभाते हुए सुप्रिया शुक्ला, जो इन दोनों
शोज की तीनों लीडिंग लेडीज - प्रज्ञा, प्रीता और सृष्टि की मां सरला अरोड़ा का रोल निभा रही हैं, इन तीनों की सफलता पर बेहद खुश नजर आईं।

श्रीति झा (कुमकुम भाग्य की प्रज्ञा), श्रद्धा आर्य (कुंडली भाग्य की डॉक्टर प्रीता अरोड़ा), और अंजुम फकीह (कुंडली भाग्य की सृष्टि अरोड़ा) उनके पास मंच पर आईं और एक दूसरे को गले लगाते हुए बेहद इमोशनल हो गईं। उन्होंने शूटिंग के दौरान साथ गुजारे पलों की यादें ताजा की।जहां सुप्रिया अपनी ऑनस्क्रीन बेटियों पर गर्व महसूस कर रही थी, वही श्रीति ने बताया कि ज़ी रिश्ते अवॉर्ड्स में उनकी पहली जीत सुप्रिया (सरला मां) के बिना अधूरी है। इन तीनों लेडीज ने इतने प्यार से अपने जज्बात बयां किए कि सुप्रिया की आंखों से आंसू छलक पड़े।

भावुक होकर सुप्रिया ने कहा, ''को-एक्टर्स के अलग-अलग लोगों से अलग-अलग तरह के रिश्ते होते हैं, लेकिन मैं खुद को खुशनसीब मानती हूं की हमारा रिश्ता ऑन स्क्रीन से कहीं ज्यादा है। तीनों लड़कियों के साथ मेरा बहुत खास रिश्ता है और मैं तीनों की मां का रोल निभाते हुए खुद को
 
सम्मानित महसूस करती हूं। सुप्रिया शुक्ला ने तीनों लड़कियों को काला टीका भी लगाया और प्रार्थना की कि उनके रिश्ते को किसी की नजर ना लगे। इन चारों महिलाओं के बीच इतना प्यारा रिश्ता देखकर ज़ी महाकुटुंब के सारे एक्टर्स का दिल भी भर आया।''