ALL बिज़नेस मनोरंजन स्वास्थ्य भोपाल आलेख मध्यप्रदेश शिक्षा
ज़ी टीवी के सितारों ने ताजा की रक्षाबंधन की यादें
July 31, 2020 • SRISHTI SHARMA • मनोरंजन

ज़ी टीवी के सितारों ने ताजा की रक्षाबंधन की यादें

मुंबई / ज़ी टीवी के कुमकुम भाग्य में प्राची का रोल निभा रहीं मुग्धा चापेकर ने कहा, "इस साल हमारे आसपास की स्थिति को देखते हुए मैंने रक्षाबंधन के लिए कोई खास प्लान नहीं बनाया है। लेकिन यदि मुझे शूटिंग से छुट्टी मिली, तो मैं राखी के लिए घर जा सकती हूं, नहीं तो मैं वर्चुअल रूप से ही राखी मनाऊंगी। मैंने कभी भी रक्षाबंधन का सेलिब्रेशन मिस नहीं किया है, क्योंकि यह मेरे लिए बहुत खास है। बहुत कम लोग जानते हैं कि मेरा भाई आदित्य मुझसे छोटा है और जब हम बच्चे थे, तो वो मुझे गिफ्ट देता था, जो मेरे पेरेंट्स मेरे लिए लाते थे। लेकिन जब उसे उसकी पहली सैलरी मिली, तो उसने मुझे अपने पूरे पैसे देते हुए कहा कि यह मेरा गिफ्ट है। मैं उस पर अवाक रह गई। मुझे अपने छोटे भाई पर गर्व है! असल में वो और मेरा कजिन भाई ओमकार मेरी हर सफलता पर मुझे गर्व महसूस कराते हैं। मैं खुशनसीब हूं कि मुझे ऐसे भाई मिले क्योंकि वो मेरी ताकत हैं। मेरी ओर से सभी भाई-बहनों को हैप्पी रक्षाबंधन!"

ज़ी टीवी के कुर्बान हुआ में नील की भूमिका निभा रहे करण जोतवानी ने कहा, "हालांकि मेरी कोई सगी बहन नहीं है, लेकिन अपनी कजिन सिस्टर के साथ मेरा बहुत करीबी नाता है और इसी रिश्ते के चलते मेरे लिए रक्षाबंधन का बड़ा खास महत्व है। हालांकि हम बचपन में जिस तरह से यह त्यौहार मनाते थे, उसकी तुलना में इस साल हमारे लिए यह एक इमोशनल सेलिब्रेशन होगा। हमने रक्षाबंधन से 4 दिन पहले ही यह त्यौहार मनाने का फैसला किया क्योंकि वो अपने करियर के लिए 3 साल के लिए चेन्नई जा रही है। हालांकि उसे बाहर भेजना बड़ा मुश्किल फैसला है लेकिन हमने महसूस किया कि यह फैसला उसकी भलाई के लिए है। वैसे, कोई भी दूरी हमें एक दूसरे से अलग नहीं रख सकती"

ज़ी टीवी के कुंडली भाग्य में शर्लिन का रोल निभा रहीं रूही चतुर्वेदी ने कहा, "यह साल बाकी सभी सालों से अलग होगा, क्योंकि इस बार मैं बाहर शूटिंग कर रही हूं और इसलिए अपने घर नहीं जा पाऊंगी। मैं अपने पिता को जोखिम में भी नहीं डालना चाहती। इस बार मैं अपने भाई से अपनी सोसाइटी की बिल्डिंग के नीचे ही मिलूंगी क्योंकि हमारी सोसाइटी में बाहर के लोगों को भी प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है। इसलिए हम मेरी सोसाइटी के बाहर रक्षाबंधन मनाएंगे। हालांकि यह त्यौहार थोड़ा अलग होगा, लेकिन यह हमेशा मेरे लिए खास रहा है। वैसे भी, राखी हमेशा मेरे लिए खास रही है। मुझे याद है एक बार जब मैं उदयपुर में शूटिंग कर रही थी, तब मेरा भाई बिना बताए मुझे सरप्राइज़ देने पहुंच गया था ताकि हम लोग साथ मिलकर रक्षाबंधन मना सकें। मैं उससे सिर्फ यही कहना चाहती हूं कि भले ही मैं तुमसे कितना भी लडूं, सारी दुनिया में तुम ही हमेशा मेरे फेवरेट पर्सन रहोगे। हैप्पी रक्षाबंधन।"

ज़ी टीवी के कुंडली भाग्य में ऋषभ का रोल निभा रहे मनित जौरा कहते हैं, "इस साल रक्षाबंधन पर मेरे लिए अपनी बहन के पास दिल्ली जाना संभव नहीं होगा क्योंकि मैं घर से बाहर शूटिंग कर रहा हूं और मैं किसी को भी जोखिम में नहीं डालना चाहता। इसके अलावा मेरे पास इतना समय भी नहीं है कि मैं दिल्ली में और फिर वहां से वापस आकर मुंबई में क्वारंटाइन रहूं। तो इस साल परिस्थितियों के चलते मेरा और मेरी बहन का यह वर्चुअल सेलिब्रेशन होगा। लेकिन मैं जानता हूं कि मेरी बहन कुछ ना कुछ योजना जरूर बना रही होगी। वो अच्छी तरह जानती है कि मुझे कैसे सरप्राइज़ किया जाए, इसलिए मुझे भी इस सरप्राइज़ का इंतजार रहेगा। मैं भी उसे एक स्पेशल गिफ्ट देकर सरप्राइज़ देने का प्लान बना रहा हूं। मुझे याद है साल 2007 में उसकी शादी के बाद हमारी पहली राखी थीउस समय वो दिल्ली में थी और मैंने उसी दौरान मुंबई में शिफ्ट किया था। उसे लगा कि मैं शायद राखी पर ना आ पाऊं क्योंकि मैं वास्तव में काम में फंसा हुआ था। लेकिन जब रक्षाबंधन से 2 दिन पहले मुझे उसकी राखी मिली, तो मैंने तुरंत अपना बैग पैक किया, टिकट बुक की और उसे सरप्राइज़ देने उड़कर उसके पास पहुंच गया। वो मुझे देखकर रो पड़ी। हालांकि इस साल मैं दिल्ली नहीं जा पाऊंगा, लेकिन मैं यकीनन इस अवसर को उसके लिए खास बना दूंगा। मैं उससे बस यही कहना चाहता हूं कि चाहे कुछ भी हो जाए, मैं हमेशा उसके लिए मौजूद रहूंगा। हैप्पी रक्षाबंधन!"

ज़ी टीवी के इश्क सुभान अल्लाह में ज़ारा का रोल निभा रहीं ईशा सिंह ने कहा, "पहले मेरा भोपाल में घर पर अपने भाई के साथ सेलिब्रेट करने का प्लान था, लेकिन इश्क सुभान अल्लाह में मेरी वापसी के कारण मुझे अचानक मुंबई आना पड़ा। तो इस बार मैं वर्चुअल रक्षाबंधन मनाऊंगी, जहां वीडियो कॉल पर मैं उसे राखी बांधूंगी और घर पर मेरे पिता उसके हाथ पर राखी बांधेंगे। मैं बताना चाहूंगी कि मैं कितनी भी उदास रहूं उसने हमेशा मेरा मूड ठीक किया है। इस लॉकडाउन में हमने बहुत सारा वक्त साथ में पेंटिंग करते हुए गुजारा। हालांकि वो मुझसे 6 साल छोटा है, लेकिन वो अपनी उम्र के हिसाब से काफी मैच्योर है। वो मेरी इंडस्ट्री को समझता है और मेरे काम को बढ़ावा देता है। कभी-कभी जब मैं सारा दिन काम करके थक जाती हूं तो वो मुझे एक बढ़िया-सी फुट मसाज भी देता है। मैं यह जरूर कहूंगी कि हम दोनों एक दूसरे से जितना लड़ते हैं, उतना ही एक दूसरे को चाहते भी हैं। वो मेरी जिंदगी का सबसे स्पेशल इंसान है।"

ज़ी टीवी के कुंडली भाग्य में पृथ्वी का रोल निभा रहे संजय गगनानी कहते हैं, "हर साल राखी का त्यौहार हमारे लिए खास होता है, क्योंकि हम लोग सुबह से इसकी तैयारी करते हैं और बैकग्राउंड में राखी के गाने बजाते हुए मेरे हाथ पर राखी बांधी जाती है। मेरी कोई सगी बहन नहीं है लेकिन मेरी प्यारी कजिन बहनें और आंटियां इसकी कमी महसूस नहीं होने देतींहर साल मैं जिंदगी की हर मुसीबत से उनकी रक्षा करने की कसम खाता हूं और हम बहुत प्यार से इस त्यौहार को मनाते हैं। हालांकि इस साल हमारा अलग तरह का सेलिब्रेशन होगा, लेकिन मझे यकीन है कि हमेशा की तरह हम इस बार भी इस फेस्टिवल को एंजॉय करेंगे। इस खास दिन से पहले मैं अपनी बहनों से यह कहना चाहता हूं कि न सिर्फ रक्षाबंधन पर बल्कि मैं जिंदगी भर उनके लिए मौजूद रहूंगा। मैं उनसे यह बताना चाहूंगा कि तुम्हारा एक भाई है जो तुम्हें हमेशा खुश रखेगा और जिंदगी के हर उतार-चढ़ाव में तुम्हारा साथ देगा। इस साल मैंने हमेशा की तरह शूटिंग से छुट्टी ली है और मैं अपनी फैमिली के साथ इसे सेलिब्रेट करूंगा। इससे उन्हें वाकई बहुत खुशी मिलेगी।"

ज़ी टीवी के कुर्बान हुआ में चाहत का रोल निभा रहीं प्रतिभा रांटा कहती हैं, "मेरे और मेरे भाई के बीच में काफी नोकझोंक भरा रिश्ता है। हम दोनों एक दूसरे को बहुत चाहते भी हैं और एक दूसरे से बहुत लड़ते भी हैं। हालांकि वो मेरे लिए वाकई बहुत खास है और उससे मिलकर मैं बिल्कुल बच्ची बन जाती हूं। इस समय वो शिमला में है और मैं उसे बहुत मिस कर रही हूं क्योंकि यह पहली बार है, जब मैं उससे दूर रहकर राखी मनाऊंगी। वो हर दिन मुझे कॉल करके बताता है कि वो मुझे कितना मिस करता है। हालांकि वो मुझसे 10 साल छोटा है, लेकिन जब वो मुझसे कहता है कि मैं तुम्हारी रक्षा करूंगा, तो मुझे वाकई खास होने का एहसास होता है। इस बार मैंने उसे एक लेटर और एक गिफ्ट के साथ राखी भेजी है। सच कहूं तो मेरे लिए रक्षाबंधन सिर्फ एक भाई के लिए नहीं है बल्कि मेरी बड़ी बहन के लिए भी है। मेरी जिंदगी में मेरी बहन ने मेरे बड़े भाई का रोल निभाया है। उसने जिंदगी के हर कदम पर मुझे राह दिखाई है और इसलिए मैंने उसके लिए भी एक गिफ्ट और एक लेटर भेजा है।"